Share Market kya hai in hindi

What Is Share Market In Hindi (शेयर मार्केट क्या है) दोस्तों इस Digital दुनिया में हर कोई आदमी पैसा कमा न चाहता है, पैसा हर व्यक्ति को जरुरतमंद चीज़ो को पूरा करने के लिए बहोत जरुरी होता है | दोस्तों स्वागत है, हमारे DigitalIdeas.in ब्लॉग में फ्रेंड्स आज हम इस Articles में Share Market kya hai in hindi में जानकारी देने वाले है,

शेयर मार्किट आखिर क्या होता है जहा शेयर मार्किट या स्टॉक मार्किट एक ऐसा मार्किट होता है जहा पर बहोत सारी कंपनी का शेयर ख़रीदे जाते है और बेचे जाते है यह ऐसी एक जगह है जो इंसान बहोत सारे पैसा कमा सकता है और बहोत सारे पैसा गवा भी सकता है आप अगर किसी भी कंपनी शेयर ख़रीदे का मतलब है,स्टॉक मार्किट शेयर मार्किट या इक्विटी Share Market मार्किट इन तीनो का मतलब एक ही होता है,दोस्तों यह वो मार्केट होता है जहा पे कंपनी के शेयर खरीद सकते ही या बेच सकते है शेयर खरीद ने का मतलब है की किसी कंपनी में कुछ ( प्रेजेंटेज %) हिस्सेदारी खरीद रहे हो ,

बेस्ट शेयर मार्केट एप्लीकेशन

  1. UpStock
  2. Groww
  3. Zerodha

उसी कंपनी का हिस्सेदार बन जाना आप जितने पैसा का उस कंपनी शेयर ख़रीदे है उतने ( प्रेजेंटेज %) के मालिक आप हो जाते है जिसका मतलब यह होता है Share Market की फ्यूचर में कंपनी को कोई फायदा होता या कोई मुनाफा होता है तो वो फायदा और मुनाफा आपको भी होगा और अगर फ्यूचर में कंपनी को कोई घाटा नुक्सान लोस्स होता है तो वो आपको भी होगा और कंपनी को कोई घाटा नुक्सान लोस्स होता तो आपने जितने पैसा लगते है वो पैसा डुब जाते है,

जिस तरह शेयर मार्किट या स्टॉक मार्किट में पैसा कामना आसान है ठीक उसी तरह शेयर मार्किट में पैसा गवाना भी उतना ही आसान है,क्युकी शेयर मार्किट में उतर चढ़ाव बहोत तेजी से होते रहते है

 निवेश कितने प्रकार

#अवधि के आधार पर निवेश के प्रकार –
  1. अल्पकालीन निवेश
  2. मध्यमकालीन निवेश
  3. दीर्घकालीन निवेश

दोस्तों शेयर मार्किट में निवेश करना है तो आपको वो भी जानकारी होनी चाहिए की निवेश कितने प्रकार के होते है अगर आपको शेयर मार्किट निवेश करने से पहले निवेश के बारे में समझना बहोत जरुरी होता है | शेयर मार्किट निवेश करने वालों को निवेश के प्रकार की सभी प्रकार की निवेश जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए, Share Market जैसे की आपको शेयर मार्किट में निवेश करना है तो सभी प्रकार की माहिती पता होना चाहिए तभी आपने रिस्क से निवेश कर सकते है,

इस दुनिया में पैसे कौन नहीं कामना चाहता है पैसा इंसान की जरुरत तो को पूरा करने के लिए बहोत जरुरी है अगर हमारे पास पैसा है तो हम अपने सपनो को पूरा कर सकते है अगर हमारे पास पैसा नहीं है तो सपने सपने बन कर ही रह जाते है इसलिए दुनिया में सभी लोग पैसा को अहमियत देते है तभी आपके पास दौलत,घर है और रिस्तेदार है और दोस्त है लेकिन यह बात सही नहीं है आप पैसो से सबकुछ नहीं खरीद सकते है,

लेकिन फिर भी इंकार नही कर सकते है, पैसा कि बहोत वेल्यू है दुनिया में पैसा कमाने के बहोत सारे तरीके है,कुछ लोग नौकरी करके पैसा कमाते है तो फीर लोग बिज़नेस करके पैसा कमाते है और कुछ कारोबार करके पैसा कमाते है और कुछ लोग शॉप से पैसा कमाते हैऔर कुछ लोग ऐसे भी है जो अपने पैसों को दाव पर लगा कर बहोत सारे पैसा कमा लेते है पर यह लोग ऐसी कोनसी जगह है जो अपने पैसे दाव पर लगते है और बहुत सारा मुनाफा होता है  ऐसी जगह है शेयर मार्किट, स्टॉक मार्किट, शेयर बाजार जहा पर अपने पैसा को दाव पर लगा कर बहोत सारे पैसा कमा सकते है,

दोस्तों शेयर मार्किट में निवेश करना है तो आपको वो भी जानकारी होनी चाहिए की निवेश कितने प्रकार के होते है अगर आपको शेयर मार्किट निवेश करने से पहले निवेश के बारे में समझना बहोत जरुरी होता है | शेयर मार्किट निवेश करने वालों को निवेश के प्रकार की सभी प्रकार की निवेश जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए, Share Market जैसे की आपको शेयर मार्किट में निवेश करना है तो सभी प्रकार की माहिती पता होना चाहिए तभी आपने रिस्क से निवेश कर सकते है

जैसे की दोस्तों आज के इस आर्टिकल मे आपको Share Market kya hai in hindi में सभी कमाल की बाते की जानकारी देने वाले है शेयर Market में आप नए है आज के इस ब्लॉग के आर्टिकल में सरल और आसान भाषा में बताने वाले है

दोस्तों शेयर  क्या मतलब होता है कई सरे लोगो को मालूम नहीं होता है, भारत देश में बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (National Stock Exchange) ये दोनों मुख्य और प्रमुख शेयर मार्किट  है और उनको शार्ट में BSE और NSE के नाम से भी जाना जाता है |

दोस्तों आप Market उनको  बोलते जहा पे बिक्री और खरीदी होती है | अगर हम सही में शाब्दिक अर्थ में कहना चाहे तो शेयर मार्किट ( Stock Market ) यानि की कोई भी सूचीबद्ध Company में थोड़ी सी हिस्सदारी (Shareholding) खरीद कर बेचने की जगह होती है |  Bombay Stock Exchange और National Stock Exchange कोई बड़ी company के Stockbroker के द्वारा से खरीद कर बेच देते है |शेयर मार्किट में अभी के Brand और Mutual Fund से भी Business होता है|

Share का मतलब एक हिस्सा होता है


दोस्तों हमारे पास अगर बहोत सारे पैसा होता तो हम लोग सभी जरुरत पूरी करते है, और अपना बहोत सारे सपने होते है, अगर पैसा होता तो हमारे सपने पुरे कर सकते है, अगर हमारे पास पैसा नहीं है तो हमारा सपना अधूरा ही रहा जाता है, दोस्तों इस लिए आज के डिजिटल के युग में पैसा की बहोत ज्यादा वैल्यू है, दोस्तों अगर आपके पास पैसा है तो Family में इज्जत और सोहरत मिलती है,और घर ,दौलत दोस्तों ये सभी कुछ मिलता है, दोस्तों इस Digital दुनिया में पैसा कमाने का बहोत सारा रास्ता है,कोई लोग अपना Business करके पैसा कमा लेते है और कोई लोग Naukri करके पैसा कमा लेते है और बहोत सारे ऐसे भी लोग है जो पाना पैसा शेयर मार्किट में लगते है और बहोत सारे पैसा कमाते है ,

You May Like These Article


शेयर क्या होता है

दोस्तों शेयर का मतलब होता है,शेयर बड़ी कंपनी की पूंजी एक सबसे बड़ा पार्ट यानि की हिस्सा होता है

जैसे की दोस्तों आपको उदाहरण तोर पे बताना चाहता हु की

कोई एक ABC कंपनी है जिसका सभी मिलकर पूंजी है 100 रुपये तो अब अगर इस ABC कंपनी की 100 रुपये पूंजी को 100 अलग अलग पार्ट बात दिया जाता है हरेक पार्ट अपने आपमें 1 शेयर कह लाएगा,इस तरह से ABC कंपनी पूंजी में टोटल 100 शेयर होंगे जिसमे हरेक शेयर की कीमत होगी 1 रुपये,इस तरह के देखेंगे की ABC कंपनी की जिसके पास जितने शेयर होगा वो वो व्यक्ति ABC कंपनी में उतने प्रतिशत का मालिक बन जायेगा

दोस्तों शेयर का मतलब की एक हिस्सा हम आपको सरल और सीधी भाषा में समजाये तो कोई संस्थान और व्यक्ति अपनी कंपनी में इन्वेस्टमेंट बढ़ाने के लिए बड़ी बड़ी कंपनी के मालिकाना हक़ बेचते है और उसको शेयर कहा जाता है ,जैसे की कोई भी बड़ी बड़ी कंपनी अपने शेयर्स को सबसे पहले शेयर मार्किट रखती है तभी वह शेयर इनिशियल पब्लिक ऑफर IPO के द्वारा लिया जाता है, फिर उन शेयर्स को शेयर्स इन्वेस्टर्स के द्वारा ख़रीदा जाता है, फिर बाद में खरीदा हुआ शेयर्स को वह इन्वेस्टर शेयर्स को एक्सचेंज बेच देता है,

फिर उन सभी शेयर पे ट्रेडिंग होना शरुआत हो जाता है,फिर उन सभी शेयर्स पर लोग एक्सचेंज में शेयर्स पे ट्रेडिंग करके बहोत सारा पैसा कमाई कर लेते है, उन सभी शेयर्स को कंपनी के शेयर्स कहते है,


शेयर मार्केट कैसे काम करता हैं?

दोस्तों जैसी की हमारे भारत देश में अर्थव्यवस्था की बात आते ही शेयर market Sensex और Nifty देते हैं. ( Share Market Guide in Hindi) लेकिन दोस्तों Sensex और Nifty मतलब क्या होते है? क्या Sensex डाउन का मतलब सभी Companies को घाटा है |

Stock exchange वो जगह है की जहां Investors विभिन्न वित्तीय साधनों में Business कर सकते हैं, जैसे शेयर, बांड और डेरिवेटिव। Stock exchange एक मध्यस्थ है, जो शेयरों की खरीद/बिक्री की अनुमति देता है।

हमारे भारत देश में, दो प्राथमिक Stock exchange बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE ) हैं।

इसके अलावा, एक और प्राथमिक शेयर मार्किट भी  है जहां कंपनियां पहली बार अपने शेयर की सूची देती हैं। दुसरा बाजार निवेशकों को प्रारंभिक Initial Public Offering (IPO) के दौरान जारी किए गए शेयर को खरीदने और बेचने की अनुमति देते हैं।

दोस्तों देखिए शेयर मार्किट बहोत सारी बातो को निर्भर करता है जैसे की –

  • Shareholder
  • Listed companies
  • Demand and supply
  • Market conditions etc.

भारत देश में बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (National Stock Exchange) ये दोनों मुख्य और प्रमुख  शेयर मार्किट  है और उनको शार्ट में BSE और NSE के नाम से भी जाना जाता है |

दोस्तों आप Market उनको  बोलते जहा पे बिक्री और खरीदी होती है | अगर हम सही में शाब्दिक अर्थ में कहना चाहे तो शेयर मार्किट ( Stock Market ) यानि की कोई भी सूचीबद्ध Company में थोड़ी सी हिस्सदारी (Shareholding) खरीद कर बेचने की जगह होती है |  Bombay Stock Exchange और National Stock Exchange कोई बड़ी company के Stockbroker के द्वारा से खरीद कर बेच देते है |शेयर मार्किट में अभी के Brand और Mutual Fund से भी Business होता है|

बेस्ट शेयर मार्केट एप्लीकेशन

  1. UpStock
  2. Groww
  3. Zerodha

शेयर बाजार में पैसा निवेश कैसे करें

शेयर मार्किट में शेयर कब खरीद ने चाहिए आप अगर नए है इस शेयर मार्किट में तो आपको अच्छी तरीके से समझ कर और इस शेयर मार्किट में आपको अनुभव कर लीजिये और अपना जो तजुर्बा  बहोत अच्छी तरीको से बढ़ा लीजिये की कब और कोनसे सही समय में अपना पैसा निवेश करना है या नहीं करना है,तब जा आपको फायदा होगा इन सभी चीज़ो का पता लगाए सभी तरह की नॉलेज लीजिये और इसके बाद ही आप शेयर मार्किट में निवेश करे,शेयर मार्किट में कोनसी कंपनी का शेयर बढ़ा है या गिरा है,

बेस्ट शेयर मार्केट एप्लीकेशन

  1. UpStock
  2. Groww
  3. Zerodha

इसका पता लगाने के लिए आप इकनोमिक टाइम्स न्यूज़ जैसे पेपर पढ़ सकते है और NDTV बिज़नेस न्यूज़ देख सकते है,जहा से आपको शेयर मार्किट के बारे में बहोत सारी जानकारी प्राप्त हो जाती है,यह बहोत रिस्क भरी हुयी मार्किट है, इसलिए आपको तभी निवेश करना चाहिए,जब आपकी आर्थिक स्थिति ठीक हो, ताकि आपको कोई घाटा होता है तो कोई लोस्स होता है तो उससे आपको कोई फर्क ना पड़े,

शेयर मार्किट में से पैसा कमाने के बहुत सारे लोग इच्छुक होते हैं, ज्यादातर भारत जैसे देश में जहाँ बड़ी आबादी में युवाओं बेरोजगार है । मेने आपको पहले बताया की ज्यादातर लोग शेयर मार्किट के बारे में यह नहीं जानते कि Start कैसे और कहा से करे और  हम आप सभी को Share Market kya hai in hindi  जानकारी देते कि शेयर मार्किट में आप शुरुआत कैसे करें और किस तरह धीरे-धीरे आगे बढ़ें। दोस्तों उससे पहले जानते हैं कि Share Market kya hai और कैसे जारी किये जाते हैं। कोई बहोत बड़ी कंपनी अपने Business को बढ़ावा करके केलिए Equity Share जारी करती है। और बहोत सारे लोग इन शेयर  को खरीद कर Company में shareholder बन जाते हैं।

अगर आप शेयर मार्किट में नए है तो आप ऐसा भी कर सकते है की थोड़े थोड़े शेयर खरीद सकते है ताकि आगे जाकर आपको घाटा होता है तो ज्यादा सहन ना करना पड़े जैसे जैसे आप इस फिल्ड में नॉलेज बढ़ाते जायेंगे तो वैसे वैसे आप अपना शेयर मार्किट पैसा निवेश करते जायेंगे, शेयर मार्किट निवेश करने से पहले बहोत सारी जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए,वरना मार्किट में बहोत आपका नुकसान भी हो सकता है,

शेयर मार्किट में आप किसी भी कंपनी के शेयर खरीद ते है तो उस कंपनी के बारे में और उस कंपनी के बैकग्राउंड के बारे में जरूर से चेक कर लीजिये


शेयर मार्किट में निवेश करने के फायदे

दोस्तों अगर आपको मालूम नहीं होगा की  Share Market in Hindi में  Invest करने पर आपको Bank और Fixed Deposit से भी ज्यादा Returnमिलता है। और आपको शेयर मार्किट में Interested है, तो शेयर मार्किट द्वारा अपना पैसा Invest कर सकते है, और शेयर मार्किट में पैसा Invest करने से हम लोगो क्या क्या फायदा होता है |

  1. अपने निवेश की दिशा में सरलता बहोत आसानी |
  2. महंगाई के खिलाफ सलामती।
  3. आपके निवेश पर लाभ Portfolio calculations करने के बाद मिलता है |
  4. प्राप्त रिटर्न के अलावा संभावित Dividend Income आता है|
  5. विविध Trading Platform के द्वारा खरीदना और बेचना आसान हो जाता है।

Shareholder किसे कहते है

जैसे की कोई भी व्यक्ति कोई भी कंपनी या संस्थान का मालिकाना शेयर्स को खरीदता है , तो वो उस कंपनी का जितने शेयर्स ख़रीदे है  उतने प्रतिशत हिस्सेदार बन जाता है ऐसा भी कहा जाता है की उन शेयर्स का मालिक बन जाता है,और जो व्यक्ति शेयर्स खरीदता है, तो वो व्यक्ति को शेयरहोल्डर कहते है शेयरहोल्डर का मतलब की आप अगर कोई भी कंपनी के शेयर्स की खरीदी करते है है तो उसी ही कंपनी के शेयरहोल्डर हो जाते है,

जैसे की दोस्तों कई बार बड़ी बड़ी कम्पनीज कोई और संस्थानों को भी शेयर्स बेच देती है ऐसे ही हालत में जयादातर जो भी इन्वेस्टमेंट में का करते है, और बैंकिंग और फार्म में इन्वेस्ट के माध्यम से कंपनी के शेयर होल्डर बन सकते है,


Shares कितने प्रकार के होते हैं

इक्विटी शेयर्स को सरल भाषा में शेयर ही कहा जाता है और विविध प्रकार के शेयर्स का अलग-अलग विशेषताएँ रहती है, और शेयर्स में प्रकार को समझना बहोत जरुरी होता है, क्युकी इन्वेस्ट के समय और अपनी जरूरर्ते अनुसार उसमे में इन्वेस्ट कर सकते है, जैसे की कोई भी दूसरे मार्केट की तरह शेयर मार्किट में भी खरीदने और बेचने वाले एक-दूसरे से मिल जाता है, और मोल-भाव कर के डील्स फाइनल करते हैं |


हमारे भारत देश में Investors को तीन  प्रकार के शेयर विकल्प उपलब्ध हैं-

  • इक्विटी शेयर (Equity Shares)
  • प्रीफरेंस शेयर (Preference Shares)
  • डीवीआर शेयर (DVR Share)
  • इक्विटी शेयर (Equity Shares)

दोस्तों अब बात करते है की इक्विटी शेयर्स की तो इक्विटी शेयर्स को मार्केट में आर्डिनरी स्टॉक और कॉमन स्टॉक के रूप में भी पहचाना जाता है,और इक्विटी शेयर्स एक सही इन्वेस्ट करने सिक्योरिटी (शेयर, बॉन्ड) होती है,और कंपनी मार्केट में जारी करती है, और ये एक खरीददार जिसे हम और आप लोग शेयरहोल्डर के रूप पहचानते है |

प्राइमरी और सेकेंडरी मार्किट से इन्वेस्ट को लेते है उनको “साधारण शेयर” भी कहते है, और इस प्रकार के शेयरहोल्डर कंपनी के आशिक हिस्सेदारी में भी होते है और कंपनी के नफे और नुकसान में जुड़े होते है ,साधारण शेयरहोल्डर ही इक्विटी शेयर्स होल्डर होते है, और शेयर्स की संख्या के बराबर कंपनी में मालिकाना हक्क होता है, और कंपनी के रूल्स रेगुलेशन और जनरल मीटिंग में भी उनको शामिल होना हक्क और अधिकार होता है,

  • प्रीफरेंस शेयर (Preference Shares)

दोस्तों साधारण शेयर में अपोजिट कंपनी सेलेक्ट इन्वेस्टर्स,प्रमोटर्स और दोस्ताना इन्वेस्टर्स को नीतिगत रूप से परेफरेंस शेयर (तरजीह आधार पर) जारी करती है, इन सभी परेफरेंस शेयर की रेट साधारण शेयर की मौजूदा कीमत से थोड़ा अलग भी हो सकती है,दोस्तों साधारण शेयर के विपरीत प्रिफरेंस शेयरहोल्डर को वोट देना परेफरेंस शेयर्स में अधिकार नहीं होता है, शरहोल्डर्स को पर इयर्स फिक्स्ड मात्रा में लाभ मिलता है, परेफरेंस शेयर्स में शेयरहोल्डर को लाभ में से सबसे पहले हिस्सा मिलता है, दोस्तों लेकिन इन्हें कंपनी का पार्टनर (हिस्सेदार) नहीं माना जाता है,

  • डीवीआर शेयर ( DVR Share )

दोस्तों DVR का Full Form होता है Differential Voting Rights इस DVR Share के प्रकार में आपको Equity और Preference के कुछ कुछ लाभ देखने को मिलेगा और जैसा की इसमें Shareholder को voting का अधिकार तो नहीं होता लेकिन आपको कुछ विशेष और अधिकार मिलता है। हमारे भारत में दो Company ने DVR शेयर जारी किया है,Jain Irrigation System Limited और Tata Motors है।


DEMAT Account क्या हैं ?

दोस्तों अगर आपको शेयर मार्किट में इंटरेस्टेड हो तो आपके पास एक डीमैट खाता होना बहोत जरुरी है,आप शेयर मार्किट में से शेयर खरीदना चाहते है,तो एक डीमैट खाता होना चाहिए अगर आपको नहीं पता की डीमैट खाता से शेयर्स कैसे ख़रीदे और डीमैट खाता क्या है तो तो चलिए आपको हिंदी में जानकारी देते है| दोस्तों आप कभी भी शेयर ख़रीदत्ते है तो सबसे पहले डीमैट खाता के लिए एलिजिबल होना जरुरी है ,क्युकी शेयर मार्किट से खरीद ने के बाद आपको डीमैट खाता में रखा जाता है |

You May Like These Article

“ DEMAT का फुल नाम DEMATERIALISED” होता है “ 

शेयर की किंमत ज्यादा हो जाती है तो आप बेचना चाहते है तो आपके डीमैट अकाउंट से ट्रांसफर हो कर सामने वाला यानि की ख़रीदने वाला के बैंक अकाउंट में पैसा भेज दिया जाता है,

डीमैट खाता खोलने के लाभ
  • भौतिक रूपों में शेयर रखने में कोई परेशानी नहीं होती।
  • कोई दुविधा नहीं होती और इसमें आप एक शेयर भी खरीद और बेच सकते हैं।
  • हस्तांतरण पर कोई स्टांप ड्यूटी नहीं होती।
  • कोई हस्तांतरण विलेख आवश्यक नहीं होता।

डीमैट खाता खोलने के लिए तीन बेस्ट एप्लीकेशन

  1. UpStock
  2. Groww
  3. Zerodha

दोस्तों इस ब्लोग के आर्टिकल Digitalideas.in में सिर्फ एजुकेशन उद्देश्य से लिखा है अगर आप शेयर मार्किट में पैसा निवेश जोखिम के अधीन है और शेयर मार्किट में निवेश करने या कोई भी निवेश करने से पहले कृपया अपने वित्तीय सलाहकार से परामर्श जरूर ले लीजिये |

Note :- दोस्तों आपको यह आर्टिकल्स अच्छा लगा है आप कमैंट्स और अपने सोशल मीडिया पे शेयर सकते है और आपको Share Market kya hai in hindi इन सभी टॉपिक से सही से सही समझाया है और आपको कोई सवाल है तो आप कमैंट्स बॉक्स में लिख सकते है ह आपको जवाब देना जरूर कोशिश करेंगे |

The power to empower digital India

2 thoughts on “Share Market kya hai in hindi”

  1. Having read this I believed it was very informative. I appreciate you taking the time and energy to put this content together. Kaja Walden Cowles

    Reply

Leave a Comment